उत्त-र प्रदेश में उठल भोजपुरी के द्वितीय भाषा के दर्जा के माँग

  • विशेष सूत्र

संगमनगरी इलाहाबाद में शनिवार, 26 मई, 2018 के दिन देश-विदेश के भोजपुरिया बुद्धिजीवी लोग के जुटान भइल आ भोजपुरी के संविधान के आठवीं अनुसूची मे शामिल कइला से लेके भोजपुरी के अश्लीलता मुक्त बनवले तक क बात उठल । मौका रहे राष्ट्रीय मासिक पत्रिका “भोजपुरी संगम” आ संस्था “भोजपुरी विकास एवं शोध संस्थान” के ओर से आयोजित भोजपुरी उत्सव “मांई” के । कार्यक्रम के उदघाटन उत्तर प्रदेश के महिला आ परिवार कल्याण मंत्री श्रीमती स्वाती सिंह कइलिन । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भारत में माॅरीशस के राजदूत श्री जगदीश गोवर्धन रहलें आ कार्यक्रम के अध्‍यक्षता राज्‍यसभा सांसद श्री रेवती रमन सिंह कइलें । ए अवसर पर अपने संबोधन में विश्‍व भोजपुरी सम्‍मेलन के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष आ भोजपुरी समाज दिल्‍ली के अध्‍यक्ष श्री अजीत दुबे कहलें कि वर्तमान केंद्रीय सरकार के ओर से भोजपुरी के संवैधानिक मान्‍यता के लेके कई बार सकारात्‍मक बयान आ चुकल बा आ प्रधानमंत्री मोदी जी भोजपुरी भाषी क्षेत्र में आपन संबोधन भोजपुरी में ही करेलें जवन ए बात के सबूत बा कि भोजपुरी भाषा से उनका लगाव बा लेकिन एकरा बावजूद अभी ले भोजपुरी के संवैधानिक मान्‍यता सरकार ना दिहलस । एके लेके उत्‍तर प्रदेश सरकार के ओर से भी केंद्र सरकार के प्रस्‍ताव जाए के चाही । उ बतवलें कि मार्च 2017 में बिहार सरकार भोजपुरी के संविधान के आठवीं अनुसूची में शामिल करे खातिर प्रस्‍ताव केंद्र सरकार के भेजलस आ झारखंड सरकार त भोजपुरी के झारखंड में द्वितीय भाषा के दर्जा भी दे दिहले बा । चूंकि उत्‍तर प्रदेश में भोजपुरी बोले वाला लोग के संख्‍या सबसे ज्‍यादा बा एह लिए उत्‍तर प्रदेश सरकार के भी भोजपुरी के संवैधानिक मान्‍यता खातिर केंद्र सरकार के प्रस्‍ताव भेजे के चाही आ उत्‍तर प्रदेश में भोजपुरी के द्वितीय भाषा के दर्जा देवे के चाही । मंत्री श्रीमती स्‍वाती सिंह के ए बयान पर कि सरकार के पहिली कैबिनेट बैठक में उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ भोजपुरी भाषा के बारे में भी चर्चा कइलें, श्री दुबे कहलें कि जब सरकार आ मुख्‍यमंत्री भोजपुरी के लेके सकारात्‍मक बाडें त फिर प्रस्‍ताव जाए के चाही । मंत्री स्वाती सिंह अपना संबोधन में कहलीं कि ए विषय में उ अपना ओर से भी केंद्र सरकार आ मुख्‍यमंत्री के पत्र भेजिहें ।
एह कार्यक्रम में भोजपुरी स्वर सम्राट श्री भरत शर्मा “व्यास” , श्री चंद्रभूषण राय (अध्यक्ष, भोजपुरी अकादमी बिहार सरकार), श्री उदेश्वर सिंह (बिहारी कनेक्ट, लंदन),श्री कृष्ण प्रताप सिंह (दुबई), डॉ गुरुचरण सिंह (सासाराम बिहार), श्री अशोक कुमार चौबे (आगरा), श्री मुकेश सिंह (संरक्षक पूर्वांचल एकता मंच, दिल्ली), श्री शिवजी सिंह (अध्यक्ष पूर्वांचल एकता मंच,दिल्ली), श्री निर्मल सिंह (अध्यक्ष वीर कुंवर सिंह फाउंडेशन,दिल्ली), श्री प्रदीप सिंह (महामंत्री सम्पूर्ण भोजपुरी विकास मंच, जमशेदपुर टाटा) सहित अनेक वरिष्ठ साहित्यकार, पत्रकार, अधिवक्‍ता, प्रतिष्ठित जन उपस्थित रहलें । सांस्कृतिक सत्र में श्री भरत शर्मा “व्यास”, लोक गायक श्री दीपक त्रिपाठी, लोक गायिका श्रीमती नीतू कुमारी नूतन, लोक गायक अमित यादव, लोक गायक नीरज तिवारी, लोक गायिका आ अपरिमिता संस्था के सचिव सुश्री सुनीता पाठक अपना गायकी से उपस्थित जन समुदाय के खूब मनोरंजन कइलें । सोनाली चक्रवर्ती एन्ड ग्रुप अपना मनमोहक झांकी से सबकर ध्यान आकर्षित कइलस । बौद्धिक सत्र के संचालन श्री मनोज भावुक (पत्रकार,साहित्यकार,कवि) कइलें आ सांस्कृतिक सत्र क संचालन संचालक विजय बहादुर कइलें । महोत्सव के आयोजक श्री अजीत सिंह (संपादक भोजपुरी संगम पत्रिका), श्री संजय सिंह, संरक्षक श्री राजा अजीत विक्रम सिंह आ उनकर पूरा टीम ए भव्‍य आयोजन खातिर बधाई के पात्र बा ।

Related posts

Leave a Comment