अशोक प्रहरी संस्था के छठवां भव्य राष्ट्रीय भोजपुरी कवि सम्मेलन सम्पन्न भइल

गाजियाबाद।  रविवार दिनांक 16/09/2018  के लोहिया नगर के हिन्दी भवन में अशोक प्रहरी संस्था के छठा भव्य राष्ट्रीय भोजपुरी कवि सम्मेलन एह बाति का गवाह बा कि भोजपुरी कविता के उछाह हिन्दी कविता से तनिकों कम नइखे। एह कवि सम्मेलन में दिल्ली– एनसीआर, यूपी व बिहार भोजपुरी भाषा के जन- प्रिय कवि लोग हिस्सा लीहले आउर देर राति ले सभे आपन लोक भाषा के सुगंध आउर ओकरे कवितई के सुघरई से श्रोता लोग सराबोर होत रहलें। एह मोका पर कार्यक्रम के मुख्य संयोजक अशोक श्रीवास्तव जी कहलें कि भोजपुरी भाषा के जाने वाला लोग पूर्वांचले नाही बल्कि देश- विदेश के हर कोना मे जी जान से चाहे वाला लोग बा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वरिष्ठ IPS श्री दीपक कुमार जी आ समारोह अध्यक्ष विश्व भोजपुरी सम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अजीत दुबे जी आ विशिष्ट अतिथि के रूप मे आइल डॉ अशोक द्विवेदी (उपाध्यक्ष – विश्व भोजपुरी सम्मेलन ) आ डॉ पुष्पा सिंह विसेन (अध्यक्ष- नारायणी साहित्य अकादमी ) मे चार चाँद लगवने। कविता भोजपुरी भाषा के सभले बरियार विधा बाटे, जवना मे मन के भावना के आंदोलित करे के सभले ढेर क्षमता बाटे। कार्यक्रम के शुरुआत सिवान से आइल मधुर गीतकार सुभाष यादव जी सरस्वती वंदना से कइलें। निशा राय जी के गाँव-गिरांव क कविता आउर गीत खुबे वाह-वाही बटोरलस। युवा कवि केशव मोहन पांडे जी के सोहर छंद के गीत सभे के सराबोर क दीहालस। हास्य कवि बादशाह तिवारी प्रेमी अपने रंग मे सभे के रंगे मे कामयाब रहलें आ श्रोता लोग के खूब हसवले। अर्तराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त युवा कवि मनोज भावुक अपने गीत आउर गजल से श्रोता लोग के भाव विभोर क दीहले। एह मोका पर कवि एचपी त्रिपाठी, संतोष शर्मा, रामरक्षा मिश्र विमल, राकेश आ मधु जी अपने अपने गीत आउर कविता से सभे के दिल जीते मे कामयाब रहल लोग। सभले अंत मे वरिष्ठ कवि सुभास यादव अपने श्रृंगार गीत आ संवेदना से भरल “माई” के गीत से श्रोता लोगन के सराबोर कर दीहलें ।कवि सम्मेलन के अंत मे संयोजक अशोक श्रीवास्तव जी सभेके आभार व्यक्त कइलें।कार्यक्रम के एह ऊंचाई तक पहुंचावे मे अनूप पांडेय आ जे पी द्विवेदी के जोगदान सराहे जोग रहे।

Related posts

Leave a Comment